Instant Relief From Acidity Gas.

क्या आप गैस एसिडिटी छे परेशान हो तो देखो  गैस और एसिडिटी के उपाय

गैस और एसिडिटी के उपाय

 
दोस्तों स्वागत हे आपका हमारी वेबसाइट Health Tips Hindi में आज हम आपके लिये गैस और एसिडिटी के उपाय वो भी घरेलू उपचार लेके आये हे। जिसे आपको गैस और एसिडिटी  की समस्या का सरल उपाय मिल सकता हे। इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की गैस और एसिडिटी होने का कारण और गैस एसिडिटी क्यों होती हे। और गैस एसिडिटी से बचने के लिए कोनसे उक्तियाँ करे उसके बारमे आपको हिंदी में बताएँगे।
 
मुख्य रूप से दुनिया में कई लोग गैस और एसिडिटी की समस्या से जुज रहे हे। गैस और एसिडिटी होने के लिए हमारी दैनिक जीवन शैली पर निर्भर करता हे।  जैसी की हमारा खाना पीना ,और उनपोस्टिक आहार का सेवन ,सही वक्त पर खाना न खाना जयादा तेल वाला खाना खाना ,उन सब बातो पे निर्भर करता हे गैस और एसिडिटी। 
 
मगर आज की पोस्ट में हम आपको गैस एसिडिटी होने के कारण और उसके साथ साथ गैस और एसिडिटी की वजसे हमारे शरीर में क्या क्या होता हे ,और सबसे जायदा महत्वपूर्ण गैस और एसिडिटी के उपाय के लिए हम क्या कर सकते हे।और इस पोस्ट में आपको गैस और एसिडिटी के लिए घरेलू उपचार मिलने वाले हे।

(toc) Table of Content

क्या होता हे गैस एसिडिटी में।

क्या होता हे गैस एसिडिटी में।


मुख्य रूप से हमें गैस और एसिडिटी की वजसे कई ऐसे लक्षण दीखते हे जिसकी वजसे हमें बहुत सारी परिसानयो का सामना करना पड़ सकता हे। सबसे ज्यादा परेशानी हमें गैस और एसिडिटी की वजसे होती हे। जिनमे शामिल हे कुछ मुख्य परिबल आपको नीचे बतया हुवा हे। 
 

पेट फुल जाने की समस्या 

गैस और एसिडिटी की वजसे हमारे पेट फूल सा जाता हे।  क्यों की गैस हमारे शरीर से बहार नहीं निकल पति हे , उसकी वजसे हमारा पेट फूल जाता हे ,उसकी वजसे हमें पेट में भारी भारी लगने के साथ पेट में दर्द होने की समस्या बढ़ जाती हे। 
 

पेट में भारी दर्द होना 

गैस की वजसे हमारे पेट में भारी दर्द होना चालू हो जाता हे , क्यों की हमारा खाने का पाचन होता नहीं हे उसकी वजसे हमारा पेट साफ नहीं होता हे।  उसकी वजसे पेट में गैस बनाना चालू हो जाती हे , जिसके कारण हमें पेट में दर्द होने के साथ साथ छीने में भी दर्द होने की समस्या बढ़ जाती हे। पढ़े: 5 मिनट में पेट दर्द से छुटकारा कैसे पाएं 

मोह में छाले हो जाना

मुँह में छाले होने के लिए मुख्य रूप से हमारे पेट का ऐसिड भागरूप होता हे , क्यों की कई बार हम हमारा भोजन का समय ख़तम होने के बाद खाना खाते हे। तो हमारे शरीर में रोजाना ऐसिड का स्त्राव खाने के समय होता हे। मगर अपने बाद में खाया उसकी वजसे गर्मी की वजसे हमारे मुँह में छाले होने की समस्या हो जाती हे।
 
और मुँह में छले होने की और भी वजह हे ,अगर हमारा पेट साफ नहीं होता हे , उसकी वजसे भी हमें छले मुँह में होने की समस्या बढ़ जाती हे।  और कई विटामिन जैसे की फोलेट की कमी की वजसे भी आपको मुँह में छले होने की समस्या हो सकती हे। मगर एसिडिटी की वजसे छले होना मुख्य कारण हे।
 

गभराहट जैसा महसूस होना

गैस की वजसे आपको गभरहट महसूस हो सकती हे , उसके साथ साथ आपको छीने में दर्द होने लगता हे।  उसकी वजसे आपको लगता हे के हमारे शरीर में कुछ हो रहा हे। जिसकी वजसे आपके दिल की धड़कन तेजीसे बढ़ना ऐसी समस्या आपको हो सकती हे। गैस की वजसे   
 

पेट में जलन होना एसिडिटी की वजसे 

आपको पेट में बहुत जलन हो ने की समस्या हो सकती हे। उसका होने का कारण हे। उनपोस्टिक खाना और ज्यादा तेल वाला खाना जिसे आपको पेट में जलन होने की समस्या हो सकती हे। और सही वक्त पे खाना न कहने की वजसे हमारे पेट में ऐसिड का स्टार्व बढ़ जाता हे। जिसकी वजसे पेट में जलन हो सकती हे। 
 

खट्टे डकार आना 

ज्यादातर लोगो को गैस और एसिडिटी की वजसे खट्टे डकार आने की समस्या बढ़ जाती हे , मगर कई लोगो को गैस एसिडिटी में डकार नहीं भी आ सकते हे। उसके होने के पीछे एसिडिटी हे क्यों की ऐसिड की मात्रा हमारे पेट में बढ़ने की वजसे हमें खट्टे और मुँह में जलन करने वाले डकार आते हे।
 

वोमिटिंग जैसा महसूस करना 

गैस और एसिडिटी की वजसे आपको उब्का जैसा महसूस हो सकता हे , क्यों की ज्यादा ऐसिड का स्त्राव होने की वजसे पेट से ऐसिड बहार निकलने के लिए हमें उब्का जैसा लगता हे। जो इंसान को गैस और एसिडिटी की समस्या हे। उसको उलटी या तो उब्का जैसा लग सकता हे। 
 

सीने में जलन होना एसिडिटी की वजसे 

सीमे में दर्द होना मुख्य कारण हे एसिडिटी का , हर इंसान को जिसको एसिडिटी हे उसको सेने में दर्द होने की समस्या हो सकती हे , क्यों की हमारे शरीर से गैस निकल नहीं पता हे उसकी वजसे हमारे सीने में दर्द होने लगता हे।
 

पेट में भारी भारी लगना 

गैस और एसिडिटी की वजसे हमारे पेट से गैस भर नहीं निकला पता हे , और हमने जो खाना खाया वो पाचन नहीं हो पता हे उसकी वजसे ,हमारे पेट में हमें भारी भारी लगता हे , उसकी वजसे हम खाना भी नई खा पते हे। तो गैस और एसिडिटी का मुख्य कारण और लक्षण हे पेट में भारी भारी लगना। 
 

खाना कम हो जाना 

गैस और एसिडिटी की वजसे आपको भूख लगनी बंध हो जाती हे ,उसके पीछे का कारण हे गैस और एसिडिटी की वजसे आपका पेट फूल जाता हे और आपको पेट में भरा भरा लगता हे।  उसकी वजसे आप सही मात्रा में खाना नहीं खा पाए हो। और उसकी वजसे हमारे शरीर को सही मात्रा में पोषक तत्व नहीं मिलते हे , उसकी वजसे हमारे शरीर में कमजोरी हो सकती हे।

 

गैस और एसिडिटी होने के कारण

गैस और एसिडिटी होने के कारन।
 
गैस - एसिडिटी होने के बहुत सारे कारण हो सकते हे वो ज्यादातर हमारी दैनिक दिनचर्या पर निर्भर करता हे।  हमारी दिन चरिया और खान पान पर बहुत निर्भर करता हे तो पहले हम वो जानते हे की गैस और एसिडिटी होती क्यों हे। और कौन से वो कारण हे उसकी वजसे हमें गैस और एसिडिटी की समस्या का सामना करना पड़ ता हे। अगर अपने निचे बताए हुवे सब कारण को कम कर दिया तो आपको गैस और एसिडिटी होने की सम्भावना ना के बराबर हो जाएगी। 
 

टाइम के साथ  खाना न खाना। 

जयादार लोगो की समस्या होती हे समय के साथ खाना नहीं खा पते हे , उनके कई काम की वजसे ,उसकी वजसे आपको गैस और एसिडिटी होने की सम्भावना बढ़ जाती हे , क्यों कीहमारे शरीर की बायोलॉजिकल क्लॉकसही समय पर ऐसिड का स्त्राव करने के लिये जिम्मेदार होता हे , आप रोजा ना एक बजे कहते हो मगर आपको कई वक्त पर १ बजे नहीं खा पाते हो , उसकी वजसे आपको एसिडिटी की समस्या हो जाती हे। 
 
तो हर इंसान को अपने खाने का समय को वक्त के साथ रखना चाहिए जैसे की आपको सुबह का नास्ता ८ बजे से पहले कर लेना हे ,और दोहपर का खाना आपको 1 बजे के असा पास रखना कहहिये और रात का खाना आपको  7 बजे से लेकर 8 बजे तक खा लेना चाहिए , जिसे आप का खाने का समय निर्धारित हो जायेगा , उसके कारण आपको गैस और एसिडिटी की समस्या धीरे धीरे कम होने लगेगी। 
 

जयादा तीखा और ज्यादा तेल वाला आहार 

अगर आप ज्यादा दिखा खाना पसंद करते हे , तो आपको असिडीटी की समस्या हो सकती हे ,क्यों की जयादा तीखा खाने की वजसे आपको पेट में जलन होना चालू हो सकती हे और आपकी सेहत को ख़राब करने भी भाग भेजा सकता हे ज्यादा तीखा खाना , और ज्यादा तेल वाला खाने की वजसे आपको एसिडिटी की समस्या होने का कारण बढ़ जाता हे।
 

ज्यादा सॉफ्ट ड्रिंक पीना 

अगर आप रोजाना CO2 कार्बनडीओक्सीड वाले ठन्डे पिने का इस्तमाल रोजाना करते हो तो आपको एसिडिटी की समस्या बढ़ सकती हे। क्यों की सॉफ्ट ड्रिंग पिने से हमारे पेट में स्त्राव होने वाला ऐसिड की मात्रा बढ़ जाती हे , उसकी वजसे एसिडिटी होने की सम्भावना बढ़ जाती हे। 
 

लगातार कोई दवाया लेना

अगर आपको कुछ सेहत की समस्या की वजसे दवाया लेने की हो सकती हे लम्बे समय तक , तो उसकी वजसे आपको गैस और एसिडिटी की समस्या हो सकती हे ,क्यों की कुछ दर्द को कम करने वाली दवाया की वजसे आपको एसिडिटी और गैस की समस्या हो सकती हे। ऐसा होने पे आप अपने डॉक्टर से जरूर से बात कीजिये , और दवाया के बारे में उनसे बात कीजिये। 
 

ज्यादा तनाव लेना

कई बार हमारे काम की वजसे या तो हमारे पारिवारिक काम या तो कोई बिन जरुरी चिंता की वजसे हमारा पाचन तंत्र कमजोर हो जाता हे। उसके पीछे का कारण हे। मानशिक तनाव या मानशिक चिंता जिसके कारण हमारा पाचन तंत्र कमजोर हो जाता हे। जिसे हम जो खाना खाते हे उसका सही छे, पाचन नहीं हो पता हे। उसकी वजसे हमें गैस और एसिडिटी की समस्या हो ने की सम्भावना बढ़ जाती हे। मानसिक तनाव को काम करे  
 

रोजाना कम पानी पीना

अगर आप रोजाना 7 से 8 लीटर पानी का इस्तमाल रोजाना नहीं करते हे , तो आपको गैस और एसिडिटी की समस्या हो सकती हे ,क्यों  की पानी हमारे पाचन तंत्र को अच्छा रखने के साथ साथ हमारे खोराक को पचने का काम करता हे। अगर सही से खाना पाचन नहीं हो पायेगा तो आपको गैस और एसिडिटी होने की सम्भावना हो सकती हे। 
 

सुबह पेट साफ न होना 

कई लोगो को सुबह पेट साफ नहीं होता हे ,उसकी वजसे उनको पेट खाली न होने की वजसे गैस और एसिडिटी का सामना करना पड़ सकता हे। और पेट साफ न होने की वजा मुख्य रूप से रोजाना व्यायाम न करने की वजसे ,ख़राब खान पान की वजसे सुबह पेट साफ नहीं होता हे। उसके कारण गैस और एसिडिटी की समस्या हो सकती हे। सुबह पेट साफ करने का उपाय 
 

अनपोस्टिक आहार लेने से 

ख़राब खान पान गैस और एसिडिटी के लिए मुख्य कारण बन सकता हे ,अगर आप रोजाना घर का खाना न खाके बहार का खाना जंग फ़ूड का इस्तमाल करते हे एन सभी कारण की वजे से हमें जयादा गैस और एसिडिटी की समस्या होती हे  और लगातार गैस ओर एसिडिटी की समस्या रहने से आपको अलसर भी हो सकता हे  और कई तरह की बीमारिया भी हो सकती हे

घरेलू उपचार गैस एसिडिटी के लिए।

कय ऐसे घरेलू उपचार हे जिनका हम इस्तमाल सदियों से हमारे बुजुर्ग करते आये हे। और हमारे आयुर्वेदा में भी उसका उल्लेख आपको मिलता हे, अगर हम रोजाना इन घरेलू उपाय को आजमाते हे तो हमें गैस और एसिडिटी जैसी समस्या का निवारण मिल सकता हे। तो आये देखते हे घरेलू उपचार गैस एसिडिटी के लिए।

1.छाछ और दही. (Buttermilk And Curd.)

 
गैस और एसिडिटी के उपाय

 
  • छाछ और दही गैस और एसिडिटी में आपको तुरंत रहत देते हे अगर आपको रोजिंदा गैस और एसिडिटी की समस्या हे तो आप छाछ में जीरा का पाउडर या तो फुदीना डालकर आप दोनोको मिलकर सेवन कीजिये जिनसे आपको गैस और एसिडिटी की समस्या से तुरंत रहत मिलेग।
  • और दही के अंडर लैक्टिक ऐसिड बक्टेरिया होते हे जो आपके पाचन तंत्र को अच्छा बनता हे जिनकी वजसे आपको रोजिंदा गैस और एसिडिटी की समस्या से तुरंत राहत मिलेगी।
  •  छाछ हमारे सरीर को ठंडक महसूस कराती हे और हमारा सरीर को पानी की कमी होने से भी बहुत लाभ दायक हे। 
  • छाछ हमारे शरीर को तुरंत एनेर्जी देती हे तो आपको दिन में आप रोजाना छाछ का इस्तमाल कर सकते हो ,जिनकी वजसे आपके शरीर को एनर्जी और आपको एसिडिटी और गैस की समस्या से भी छुटकारा     मिलेगा।

2.टकसाल के पत्ते  (Mint Leaves)

 
गैस और एसिडिटी के उपाय

 
  • टकसाल के पते में मेन्थोल पाया जाता हे जो हमारे शरीर को ठंडा पन महसूस कराता हे और टकसाल के पता कार्मिनेटिवे होता हे जो हमें गैस और एसिडिटी होने से बचता हे।  अगर आपको रोजिंदा एसिडिटी की समस्या हे तो आप रोजाना टकसाल का पता और उसको आप छाछ में मिलकर रोजाना सेवन कीजिये आपको।  हर दिन एसिडिटी से छुटकारा मिल जायेगा

3.सौंफ के बीज (Fennel Seeds)

गैस और एसिडिटी के उपाय

  • सौंफ के बीज होते हे जो कार्मिनेटिवे होते हे जिनकी वजसे आपको हर दिन के लिए आपको एसिडिटी में तुरंत रहत मिलेगी 
  • सौंफ के बिजका राजमा सवें आपको खाना खाने के बाद तुरंत करना हे जिनके वजे से आपको तुरंत एसिडिटी में रहत मिलेगी 
  • और सौंफ के बीज हमारे पाचन तंत्र को भी बहुत अच्छा बनाते हे तो आपको रोजाना सौंफ के बीज का इस्तमाल करना चाइये 
  • और अआप सौंफ के बीज का शरबत बनाके भी आप रोजिंटा  शरबत का सेवन कर सकते हो जिनके वजसे आपको एसिडिटी नहीं होगी क्यों की सौंफ के अंडर हमारी पेट  की पेच को कण्ट्रोल करने की ताकत होती हे।

4. अदरक (Ginger)

 
गैस और एसिडिटी के उपाय

 
  • अदरक के अंडर फेनोलिक कंपाउंड होते हे जो हमारे पेट की PH  को कम करता हे और हमारे पाचन तंत्र को भी अच्छा बनता हे।  जो हमें गैस और एसिडिटी में बहुत लाभदायक होता हे
  • अदरक हमारी इम्युनिटी को बढ़ने में भी लाभदायक होता हे जो  हमें जुखाम और फीवर जैसी बिमारिओ से दूर रखता हे , तो आपको रोजाना एक बार अदरक वाली ग्रीन टी पीनी चाइये।

5. केला (Banana). 

 
गैस और एसिडिटी के उपाय

  • केला हमारे स्टमक की PH को बैलेंस करने का काम करता हे और हमें कॉन्स्टिपेशन से रहत देता हे तो रोजाना केला खाने से आपको एसिडिटी में बहुत सारा फायदा होगा।
  • और केला हमारी हड्डीओं को भी मजबूत करने में बहुत लाभ दायक होता हे.
 

अंतिम शब्द 

उम्मीद करते हे आपको हमारी पोस्ट गैस और एसिडिटी के उपाय से कुछ अच्छा शिखने को मिला होगा। इस पोस्ट में हमने आपको गैस एसिडिटी क्यों होती हे और गैस एसिडिटी के वजसे हमारे शरीर में क्या क्या होता हे और गैस एसिडिटी का उपाय कैसे करे उकसे बरमे आपको बतया हे। अगर आप रोजाना इन में से किसी चीजका इस्तेमाल अगर करते हो तो आपको गेरेंटी के साथ आपको राहत  मिल सकती हे हमेशा के लिए गैस और एसिडिटी से , तो उम्मीद करते हे की आपको हमारी Health Life Tips पोस्ट अछि लगी होगा।

नोट: हमारी इस गैस और एसिडिटी के उपाय पोस्ट में आपको माहिती मेडिकल रिपोर्ट और स्वास्थ्य विशेषज्ञ के आधारित दी गई हे , आपको कोई स्वास्थ्य सबंधी समस्या हे तो अपने चिकित्स की सलाह जरूर से ले। (alert-warning) 

 

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.