सबसे बढ़िया मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है?

Rx.Daksha
0

सबसे बढ़िया मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है?

मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है?

दोस्तों स्वागत हे दुबारा हमारी वेबसाइट  Good Health Tips Hindi आज हम आपको मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है? के बारे में बताने के लिए आये हे मानसिक स्वास्थ्य की समस्या पूरी दुनिया में कई लोगो को होता हे. मेन्टल हेल्थ 10 अक्टूबर को मनाया जाता हे,हम मानसिक तनाव  से  कैसे छुटकारा पा सकते हे इन सभी बातो को आज हम आपको बतायेगे ताकि हर कोई इंसान अपनी मानसिक स्वास्थ्य को अच्छा बना सके, तो चलो देखते हे हम हमारी मानसिक स्वास्थ्य के लिए क्या क्या कर सकते हे। और हमारी मानसिक स्वास्थ्य को कैसे बढ़िया बना सके।
 
हमारा मासिक स्वास्थ्य अच्छा होना बेहद जरुरी हे। क्यों की अगर हमारा मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होगा तो हमें कई सारी समस्या होने की सम्भावना बढ़ जाती हे। उसके साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने पे हमें नकारात्मक विचार होने के साथ साथ हमारे पुरे स्वास्थ्य में उसकी असर हो सकती हे। उसी कारण हम आज की पोस्ट में आपको मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है? वो सबकुछ विस्तृत में बताने वाले हे।
 
(toc) Table of Content

मानसिक हेल्थ ख़राब होने के कारण 

 
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है?
हमारी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने के कारण हम कई गलतियां करते हे हमारी पूरी दिन चरिया में जिससे हमारी मानसिक स्वास्थ्य खराब होने का कारण होता हे ,अगर अपने ये सब गलतियां बंध कर देते हो तो आप हरोज खुश रह पाओगे, तो चलो देखते हे हमारी गलतियां।
 

योग को शामिल न करना 

दोस्तों योग करने से हमारी मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहता हे। मगर हम योग को हमारे दैनिक जीवन शैली में शामिल नहीं करते हे। उसके कारण हमारी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने का मुख्य कारण बन सकता हे। जिनको आपको बेहद ध्यान रखना चाहिए। क्यों की योग न करने से हमारी मन की स्थिति में परिवर्तन हो सकता हे। जिसके करना हमें नकारात्मक विचार आने के साथ साथ मानसिक तनाव की समस्या हो सकती हे।
 

मैडिटेशन ना करना

योग और मेडिटेशन हमारे दैनिक जीवन शैली में बेहद आवश्यक हे, हमारे मानसिक स्वास्थ्य को अच्छा रखने के साथ साथ मगर हम हमारे रोजिंदा कामो या आलशी पन की वजसे योग और मेडिटेशन को हमारे दैनिक दिन चरिया में शामिल नहीं करते हे। उसके कारण भी हमारी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने की समस्या बढ़ जाती हे। 
 

शारीरिक रूपसे कार्यरत ना रहना

अगर हम हमारे स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए शारीरिक रूप से कार्यरत नहीं रहते हो। तो आपको मासिक स्वास्थ्य ख़राब होने के साथ साथ और भी समस्या होने की सम्भावना बढ़ सकती हे। क्यों की आप अपने स्वास्थ्य के किये शारीरिक गति विध्या जैसे की व्यायाम और पेडल न चलना रोजाना व्यायाम न करना अगर आप इ सब को शामिल नहीं करते हे अपने रोजिंदा जीवन में तो आपको मानसिक तनाव की समस्या बढ़ सकती हे। 
 

नींद पूरी ना करना 

हमारे मानसिक स्वास्थ्य के सतह साथ हमारे पुरे शरीर की स्वास्थ्य के लिए नींद बेहद जरुरी हे। अगर आप रोजाना कई काम की वजसे या यो समस्य के साथ आपके शरीर को आराम या तो नींद को पूरा नहीं करते हे। तो सबसे बड़ी समस्या आपको मानसिक तनाव की हो सकती हे। 
 

ज्यादा तनाव लेना 

अगर हम रोजिंदा काम की वजसे जयादा तनाव  लेने से हमारे दिमाग को ज्यादा जोर पड़ता हे उसके वजसे भी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने की समस्या बढ़ जाती हे। क्यों की लम्बे समस्य तक तनाव लेने से मानसिक स्थिति में बदलाव होने  की वजसे हमें कई तरह की समस्या का सामना करना पद सकता हे। जिसमे से मानसिक तनाव सबसे जयादा आपको समस्या कर सकता हे।
खान पान 
 

बिन जरुरी मोबाइल और कंप्यूटर का इस्तमाल

अगर आप रोजाना बिन जरुरी मोबाइल या कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हो। लम्बे समय तक तो आपको आँखों की समस्या के साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने की समस्या बढ़ सकती हे। मानसिक स्वास्थ्य एक्सपर्ट के मुताबिक अगर आप जरुरत से ज्यादा मोबाइल और कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हो तो आपको तुक समस्य में मानसिक तनाव की समस्या हो सकती हे। 
 

मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने पे लक्षण ।

मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है?

 
दोस्तों आपको कैसे पता चलेगा की आपकी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब हे तो उन सब बातो को आपको हम बतायेगे की आपको कैसे पता चले की आपकी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब हे.
 

गुसा आजाना छोटी छोटी बातो में

अगर आपको छोटी छोटी बातो में बिन जरुरी गुसा आ जाता हे। तो आपको अपने चिकित्च की सलाह जरूर से लेनी चाहिए क्यों की मानसिक चिकित्च के अनुसार छोटी-छोटी बातो में गुसा आ जाना एक मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने का संकेत हे। जिनका आपको बेहद ध्यान रखना हे और ऐसा होने पे जाँच करना बेहद जरुरी हे।  
 

नकारात्मक बिचार।

मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने में मुख्य संकेत आपको नकारात्मक विचार आने की सम्भावना बढ़ जाती हे। और यह मुख्य लक्षण हे। मासिक स्वास्थ्य ख़राब होने का। ऐसा महसूस होने पे अपने डॉक्टर की सलाह जरूर से लिए जिसे आप और किसी समस्या को होने से टाल सको। 
 

एकेला पन महसूस करना 

मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने की वजसे आपका मन कही नहीं लगता हे और आपको हजरो नकारात्मक विचार आपके दिमाग में चलते रहते हे। जिसके कारण आपको अक्लका पन महसूस होने लगता हे। और आपको अकेले रहने से दर लगने लगता हे। तो यह भी एक मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने का लक्षण और संकेत हे।
खुदको चोट पहुंचाना
 

अच्छा महसूस न कर पाना

मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने की वजसे आपको कही पे मन नहीं लगता हे और उसके साथ साथ आपको नकारात्मक विचार आने के साथ साथ आपको अंदर से ख़राब महसूस होता हे।जिसका मुख्य कारण हे हमारी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होना।
 

गभराहट महसूस करना।

मानसिक तनाव में आपको छोटी छोटी बातो में गभराहट होने के साथ साथ आपको दर जैसा महसूस होने लगता हे उसके साथ साथ आपको दिल की धड़कन बढ़ने की समयसा भी हो सकती हे। और आपको कभी भी छोटी छोटी बातो से गभराहट और दर लगने लगता हे। यह होने का मुख्य कारण हे हमारा मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होना।ऐसा होने पे आप तुरंत डॉक्टर की सलाह ले और जाँच करवाना बेहद जरूरी हे।  

 
ऊपर दिये हुवे सारी समस्या से आपको पता चलेगा की आपकी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब हे, अब हम देखेंगे की हमारी मानसिक स्वास्थ्य को हम कैसे अच्छा बना सके और उनमे हम कैसे सुधार ला पाये उन सब बातो को हम आपके सामने रखेंगे ताकि आप मानसिक स्वास्थ्य की समस्या का निवारण ला सके.
 

मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय

 
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है?


 
अब हम आपको पूराविस्तार से बतायेगे की हमारी मेन्टल हेल्थ को हम कैसे बढ़िया बना सके, और उनके लिए क्या क्या उक्तियाँ कर सके ताकि हम पूरी तरह से अचे और अपनेको हेल्दी बना सके.
 

योगा और मैडिटेशन

 
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है
 
दोस्तों योग और मैडिटेशन से हम मस्टिक को पॉवर फुल बना सकते हे अगर अपने अपनी दिन चरिया में मैडिटेशन और योग को शामिल कर लियता तो आपको टेंशन और मानसिक तनाव से आप मुक्त हो जाओगे ,तो योग को आपकी दिन चरिया में हरोज सुबह के समय करना चाहिये।
  • योगा और मैडिटेशन  

व्यायाम करना।

 
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है
 
रोज़ाना अगर कोई भी इंसान 30 मिनट व्यायाम करता हे तो उनकी मानसिक हेल्थ बहुत अछि हो जाती हे ,तो आप रोजाना आपके दिन की सुबह में 30 मिनट व्यायाम करना चालू करदो , आप अपने आपको अच्छा और बेहतरीन मानने लगो गे।सबसे बढ़िया 15 मिनट का व्यायम कैसे करे मानसिक स्वास्थ्य को अच्छा करने के लिए जानिए।
 
 

नींद को पूरा करो.

 
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है
 
हर इंसान को ८ घंटे की नींद पूरी करना जरुरी हे ,अगर अपने ८ घंटे अपनी नींद को रोजाना पूरा करोगे तो आप 100 % मानसिक  तनाव से बहुत दूर रहोगे और आपकी मानसिक हेल्थ भी बहुत अछि बनेगी। और आपको हैल्दी और अच्छा बनाएगी जिसे आप अपने पुरे दिन में अच्छा काम कर पाओगे और आपको थकान बिलकुल महसूस नहीं होगी। और यह एक सबसे बढ़िया मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है? उसमे हम शामिल कर सकते हे।
 

सकारात्मक बिचार।

 
अगर आपकी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होगी तो आपको नकारात्मक बिचार आएंगे , आपको उसका उल्टा कर्र्ना हे। अछि किताबे या तो आपको जो  काम में मजा आये वो काम में आप अपना टाइम बिताओ , और हर चीजे को मजे से मनोरंजन करो। 
 

पौस्टिक आहार का सेवन

 
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है?

 
अगर आपने रोजाना पोस्टिक और अच्छा खाना चालू कर दिया तो आपकी मानसिक स्वास्थ्य बहुत अछि हो जाएगी ,अपने खाने में पोस्टिक अगर जो आपकी सेहत को अच्छा बना सके तो आपको नीचे दी गए फलो और पोस्टिक आहार का सेवन करना ना चाहिये।
 
बादाम
 
बादाम में विटामिन इ के साथ साथ ओमेगा फैटी एसिड पाया जाता हे। जिसके कारण बादाम का इस्तेमाल करने से आपको मासिक स्वास्थ्य को अच्छा बना सकते हो क्यों की बादाम हमारे न्यूरॉन को अच्छा रखने के साथ साथ हमारे दिमाग की सेहत को अच्छा बना सकता हे। 
 
बादाम का इस्तेमाल आप अपने मानसिक स्वास्थ्य को सुधर ने के लिए आप रात को बादाम को पानी में भिगो के रख तो और उस भीगे हुवे बादाम का इस्तेमाल आप सुबह मिल्क शेक या तोमिल्क और बादाम का इस्तेमाल सुबह के नास्ते में कर सकते हो। और बादाम का इस्तेमाल आप कुछ अचे व्यंजनो को बनाने में भी कर सकते हो अपने मानसिक स्वास्थ्य को अच्छा बनाने के लिए।
 
अखरोट
 
अखरोट में मुख्य रूप से हमारे मानसिकस्वास्थ्य को अच्छा करने के लिए आवश्यक ओमेगा फैटी एसिड पाया जाता हे। उसके साथ साथ एंटी ऑक्सीडेंट पाया जाता हे, जिसे हमारे दिमाग को मासिक शांति मिलती हे। और आपके नकारात्मक विचार को कम करने में मदद करता हे। और उसके साथ साथ आपको ऊर्जा प्रदान करने का काम करता हे। 

अखरोट का इस्तेमाल आप मिल्क शेक में कर सकते हो उसके साथ साथ आप अन्य फल के जूस के साथ सुबह अखरोट का इस्तेमाल कर सकते हो। अपने मानसिक तनाव को कम करने के लिए। और आप रोजाना अखोरत का इस्तेमाल हमारे दिमाग की याद्दाश को बढ़ने के लिए इस्तेमाल कर सकते हो। 
 
संतरे
 
अगर आप संतरे का रस का इस्तेमाल रोजाना करते हो तो आपके पाचन तंत्र अच्छा हो जाता हे। क्यों की मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने से आपका पाचन तंत्र में समस्या हो सकती हे। जिसके करना आपको गैस और एसिडिटी की समयसा हो सकती हे। जिसे आपको नकारामक विचार आ सकते हे। मगर हम संतरे का रस का इस्तेमाल रोजाना करते हे। तो हमारा मानसिक स्वास्थ्य अच्छा होने लगता हे। पढ़े: संतरा जूस के फायदे और नुकसान
 
मानसिक तनाव या मानसिक स्वास्थ्य को अच्छा करने के लिए आप एक या दो संतरे का रस का इस्तेमाल रोजाना सुबह कर सकते हो। और आप संतरे को ऐसे ही सुबह के नास्ता में शामिल कर सकते हो। जिसे आपकी मानसिक स्वास्थ्य अच्छा हो सकते। मगर संतरे का जूस का इस्तेमाल करने से पहले आप अपने चिकित्च की सलाह जरूर से लीजिये। 
 
पत्तेदार साग
 
पत्तेदार सब्जिया में एंटी ऑक्सीडेंट के साथ साथ फायबर भी पाए जाते हे। अगर रोजाना पत्तेदार सब्जिया का इस्तेमाल आप रोजना करते हे तो आपको पाचन तंत्र के साथ साथ मानसिक तनाव की समस्या में भी लाभ मिल सकता हे। क्यों की हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक अगर आप रोजाना पत्तेदार सब्जिया अपने आहार में शामिल करते हे तो आपको बहुत सारा स्वास्थ्य लाभ मिल सकता हे। 
 
हल्दी
 
हल्दी आपको मानसिक तनाव को कम करने में मदद रूप हो सकती हे। क्यों की हल्दी में कई तरह के पोस्टिक पोषक तत्व पाए जाते हे। जो हमारे दिमाग को मानसिक रूप से मजबूत बनाने के लिए फायदेमंद होते हे। जिसकी वजसे आपको हल्दी का ेत्सम्ल मानसिक स्वास्थ्य को सुधर ने के लिए इस्तेमाल करना चाहिए। 
 
केले
 
केला का इस्तेमाल करने से हमारे मानसिक तनाव कम होता हे। जिसके कारण केला का रोजाना इस्तेमाल करने से आपको मानसिक तनाव के साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य को अच्छा बनाने में आपको मदद मिलती हे। उसके साथ साथ केला आपके दिमाग को आवश्यक विटामिन भी प्रदान करता हे जिसे आपको पुरु सेहत अछि हो सकती हे। 
 
केला का इस्तेमाल आप दूद के साथ या तो ऐसे ही सुबह नास्ते में आजमा सकते हो। और अलग अलग रूप से केला का वंजानो में इस्तेमाल करके आप मानसिक तनाव को काम करने के लिए केले का इस्तेमाल कर सकते हो। एक दिन में कितने केले खाना चाहिए । इसे एक बार जरूर से पढ़िए  
 

अंतिम शब्द

इस पोस्ट में हमने आपको मानसिक स्वास्थ्य ख़राब होने के कारण, मानसिक स्वास्थ्य क्यों ख़राब होता हे उसके साथ साथ मानसिक तनाव को कम करने के साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य को सुधरने के लिए उपाय बतया हे। अगर आप रोजाना इन सभी बातो का पालन करते हो तो आपको 100 % आपकी मेन्टल हेल्थ अछि होती हुवी दिखेगी आपको ,और आपकी सेहत भी बहुत अछि होने लगेगी ,और उम्मीद करते के की आपको हमारी पोस्ट 
मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के उपाय क्या है? अछि लगी होगी ,अब मिलते हे अगली पोस्ट में.

नॉट: अगर आपको मानसिक तनाव की समस्या हे। तो आप हमारी पोस्ट का पालन करने से पहले अपने चिकित्च की सलाह जरूर से लीजिये। और इस पोस्ट में आपको माहिती हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक दी गई हे। जिसका आपको बेहद ध्यान रखना हे। 

और भी पढ़े

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)

#buttons=(Ok, Go it!) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Ok, Go it!