3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

Rx.Daksha
0

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें? क्या मुंकिन हे दाद का इलाज।

 
3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें? अगर आपको लम्बे समय से दाद की समस्या हे तो। आप 3 दिनों में दाद का निवारण नहीं कर सकते हो। मगर आपको कुछ ही दिनों में दाद की समस्या हुवी हे तो आप उसे आसानी से 3 दिनों में ख़तम कर सकते हो। 

आज की पोस्ट में हम आपको दाद से छुटकारा पाने के लिए कुछ घरेलु उपचार बताने वाले हे। और उसके साथ साथ दाद में क्या लक्षण होते हे। और दाद क्यों होती हे उसके बारे में आपको बताने वाले हे।
 
दोस्तों दाद एक त्वचा की बीमारी हे जिसमे आपको गोल आकर का लाल या कला धब्बा सा बन जाता हे। और उसमे छोटे छोटे दाने होने लगते हे। जैसी की आपको ऊपर के फोटो में दिखाया हे। उसकी वजसे आपको उस में खुजली और जलन की समस्या होने लगती हे। आप को हर समस्य खुजली की समस्या हो सकती हे। 
 
दाद एक गंभीर त्वचा का रोग हे, लकिन कुछ घरेलु उपचार करके भी आप दाद को हमेशा के लिए ख़तम कर सकते हो। उसके लिए आपको कुछ घरेलु उपाय के साथ साथ आपको कुछ बातोंका भी ध्यान रखना होता हे। जिनके बारे में आपको हम विस्तृत से बताने वाले हे।
 
toc) Table of Content  
 

दाद के प्रकार

 
दाद को हम मुख्य रूप से दो नाम से जानते हे, जिसमे शामिल हे लाल दाद काली दाद और सुखी दाद से हम जानते हे। लकिन दाद कई रूप से होती हे, जिसका विभाजन हम अलग अलग हिसो में होने वाले नाम से। पहचान चकते हे। तो आये देखते हे दाद के मुख्य प्रकार क्या क्या होते हे।
 
टिनिया क्रूरिस :टिनिया क्रूरिस मुख्य रूप से जोड़ो और जांघो के बिच में होता हे। और आपको एश प्रकार के दाद मुख्य रूप से गर्मियों में हो सकता हे। क्यों की गर्मियों मेंज्यादा पसीना होने के वजसे एच प्रकार के दाद हमारे जांघो में देखा जा सकता हे।
 
टिनिया कैपिटिस टेल मी कैप्स एक दांत का रोग है। जो सर के ऊपर भागों में देखा जाता है। जिसकी वजह से त्वचा में खुजली हो बालों को झड़ने की भी समस्या हो सकती है। यह बात करो मुख्य रूप से बच्चों में पाया जाता है।
 
टिनिया कोर्पोरिस केन्या कॉरपोरेशन दांत का रोग है। तो मुख्य रूप से शरीर के किसी भी भाग में पाया जाता है।  और दिखने में गोल और लाल और कल गोल साथी हो जाते हैं, उसके ऊपर छोटे-छोटे दाने दिखने लगते हैं।  जिसके कारण आपको कोई जगह पर बहुत ज्यादा खुजली होने की समस्या हो सकती है।
 
टिनिया पेडिस यहां एक उंगलियों के बीच के और पैर के तलवों में होने वाला दांत का प्रकार है। जिसमें आपको उंगलियों के बीच छोटे-छोटे गोलाकार से जाते दिखने लगते हैं। जिसके कारण आपके पैरों के तलवों के बीच और उंगलियों के बीच खुजली होने के आवश्यकता हो सकती है।
 
टिनिया यूनग्विटा यहां एक बात का प्रकार है। जिसमें आपको बड़ी खुजली का साथ-साथ जालंधर की समस्या हो सकती है, वह जैंगो के किसी भी फाइल में हो सकता है। इसका होने का मुख्य रूप से हमारे शरीर में ज्यादा पसीना होना और कमरिया होना जिसके कारण यह त्वचा का रोग हो सकता है।
 
 

दाद होने के मुख्य कारन। 

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

 
दाद होने के  कारण में कुछ हमारी गलतिया या तो हमारे स्वास्थ्य को अच्छा न रख पाने की वजसे भी दाद होने की समस्या बढ़ जाती हे। और उसके साथ साथ कई हमारे दैनिक दिन चरिया भी दाद होने के लिए निर्भर करती हे। तो आये देखते हे दाद होने के लिए मुख्य कारण। 
 

अपने शरीर को स्वस्थ न रख ना।

कई बार लोग अपने शरीर को स्वस्थ नहीं रखते हैं। और बिना साबुन का इस्तेमाल किया ऐसे ही ना लेते हैं, और सभी को अच्छे से स्वस्थ गर्मी जैसे स्थिति में शरीर को पूछते नहीं है। उसकी वजह से दांत के साथ-साथ त्वचा की और भी कई बीमारियां जैसे की गम मोरिया खुजली जैसे समस्या हो सकती है। तो मुख्य रूप से दाद होने का यह कारण है, की आप अपने सारे को स्वस्थ नहीं रखते हैं।
 

दूसरे इंसान की चीजों को इस्तामल करना

दांत एक त्वचा से फैलने वाला खेती रोग है, जिसके कारण अगर आप दूसरे इंसान के कपड़े या तो शरीर में इस्तेमाल करने वाली किसी भी चीज का इस्तेमाल आप करते हो और उसे इंसान को दांत की समस्या है, तो आपको दाद होने की संभावना बढ़ जाती है, क्योंकि दांत दाद सब से होने वाली इंफेक्शन है।
 

धुप में न जाना

अगर आप अपने शरीर को ढीला ही रखते हो शरीर को अच्छे से पूछते नहीं है, तो उसकी वजह से आपको दाद होने की समस्या बढ़ जाती है। अगर आपको जाना धूप में थोड़ी देर के लिए रहते हो जिससे आपके बदन का पसीना सूख जाता है। इसके कारण आपको दाद होने की समस्या काम हो जाती है।
कपडे साफ न रखना 
 

ख़राब तेल का इस्तामल

कई बार हम ऐसे खराब तेल का इस्तेमाल हमारे खाने में करते हैं। उसकी वजह से हमें शरीर में कई तरह के गंभीर त्वचा के रोग हो सकते हैं, जैसे की दाद खुजली कमरिया और भी त्वचा में होने वाले गांबे रोग होने की संभावना बढ़ जाती है।
 

दाद के लक्षण क्या होते हे। 

लाल गोल चाटे दाद होने पर आपको जहां पर दादा है। वहां पर गोल आकर के लाल चांटे लगते हैं, उसकी वजह से वहां पर छोटे-छोटे डेन दिखते हैं। जिसके कारण आपको परी खुजली होने की संभावना बढ़ जाती है।
 

काले  गोल चाटे 

अगर आपको सुखी दादा है, वहां पर आपको गोल आकार के काले धब्बे के साथ-साथ छोटे-छोटे दाने उसके अंदर दिखते हैं और वह आपको भारी मात्रा में खुजली दे सकते हैं
 

खुजली

दादा में मुख्य रूप से खुजली होना आम बात है, क्योंकि अगर आपको डांट की समस्या है, तो आपको वहां पर खुजली होने का लक्षण दिख सकता है।
 

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

हमने आपको ऊपर बतया की अगर आपको दाद की समस्या अभी चालू ही हुवी हे तो आप दाद की समस्या का संधान कर सकते हो कुछ घरेलु उपचार छे। मगर आप लम्बे समस्य से दाद की समस्या से जुज रहे हो तो आपको कुछ वक्त लग सकता हे। दाद को जड़ से ख़तम करने के लिए। तो यहाँ पर हमने आपको कुछ घरेलु उपचार बातये हे जिसे आप कुछ ही वक्त में दाद जैसी समस्या से छुटकारा पा सकते हो। 
 

नीम के पत्ते का इस्तामल

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

 
दोस्तों नीम के पत्ते का इस्तेमाल हम कई तरह के कीटाणु के नाश के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। क्योंकि नीम के पत्ते मुख्य रूप से एंटीफंगल और एंटी बैक्टेरियलप्रॉपर्टी पायी जाती हे। जिसे आप नीम के पत्ते का इस्तेमाल दाद जैसी समस्या में कर सकते हो। और नीम के पत्ते हमारे त्वचा में होने वाले रोगो के लिये सदियों से इस्तामल किया जाता आया हे।

नीम के पत्ते का इस्तामल आप दाद के लिए करने के लिए आपको, नीम के पत्ते को काट कर उसे पिचना न हे या तो आप मिक्सर का इस्तामल  भी कर सकते हो। रस निकलने के बाद आपको उस रस को खली बोतल में भरलेना हे। और उसी रस का इस्तामल आपको रोजाना दिन में 3 से 4 बार इस्तामल करना हे। जिसे आपको कुछ ही दिनों में दाद जैसी समस्या से छुटकारा मिल सकता हे। और आपको दाद की सरुअत हे तो 3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें? उसका समाधान मिल सकता हे।
 

एलोवेरा का इस्तामल

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

 
दोस्तों एलोवेरा का इस्तेमाल हम हमारी त्वचा के लिए विभिन्न रूप से करते आए हैं मगर आज हम एलोवेरा का इस्तेमाल दादा जैसी समस्या से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि एलोवेरा में एंटी माइक्रोबॉयल एक्टिविटी होती है जिसके कारण हमारे तो आज में होने वाले खुजली खमरिया और दादा जैसे समस्या से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं

एलोवेरा का इस्तेमाल करने के लिए आपको एलोवेरा के पत्ते को काट के उसमें से एलोवेरा जूस को निकालना है उसे एक खाली बोतल में भर देना है उसके बाद जहां आपको डांट की समस्या है वहां आपको अच्छे से साफ करने के बाद एलोवेरा जेल को वहां पर लगाना है ऐसा रोज दिन में दो से तीन बार करने से आपको कुछ दिनों में बाद जैसे समस्या से आसानी से छुटकारा मिल सकता है
 

नारियल का तेल

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

 
दोस्तों नारियल का तेल सालों से इस्तेमाल किया जाता है, विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभ के लिए आज हम आपको नारियल तेल का इस्तेमाल दादा जैसी घातक त्वचा के रोग के लिए नारियल का तेल का इस्तेमाल कैसे करें उसके बारे में बताने वाले हैं। क्योंकि नारियल तेल में एंटी माइक्रोबॉयल एक्टिविटी होने के साथ-साथ एंटी फंगल प्रॉपर्टीज पाई जाती है। उसकी वजह से का इस्तेमाल कहीं विभिन्न प्रकार के त्वचा के रोगों में इस्तेमाल कर सकते हैं, उसके साथ-साथ हम बाद में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

नारियल का तेल का इस्तेमाल दांत के लिए करने के लिए आपको नारियल के तेल को हल्का सा गर्म करना है।  फिर जहां पर आपको उदास की समस्या है। वहां पर आपको गम नारियल तेल को लगाना है, ऐसा आपको रोजाना दिन में तीन से चार बार करना है।  जिससे आपको दाग जैसी बीमारी से खुशी दिनों में अच्छा होने लगेगा।

हल्दी

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

 
वैसे हल्दी का इस्तेमाल हमारे पूरे भारत में व्यंजनों को बनाने में इस्तेमाल किया जाता है। मगर हल्दी के साथ-साथ एंटीफंगल एक्टिविटी पाई जाती है। उसकी वजह से हल्दी का इस्तेमाल दादा जैसे समस्या में आसानी से किया जाता है। और हमारी त्वचा में होने वालेऐसे रोगो से मुक्ति पाने के लिए हम हल्दी का इस्तामल कर सकते हे।

हल्दी का इस्तेमाल करने के लिए आप हल्दी और नींबू को एक साथ में मिला ले, उसके बाद जहां आपको दांत और खुजली की समस्या है वहां पर आप इस पेस्ट को इस्तेमाल कर सकते हो, जिससे आपको आसानी से कुछ दिनों में बात जैसे समस्या से छुटकारा मिल सकता है।
 

लहसुन

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

 
दोस्तों लहसुन में माइक्रोबॉयल एक्टिविटी के साथ-साथ एंटीफंगल प्रॉपर्टी होती है। उसकी वजह से लहसुन का इस्तेमाल त्वचा में होने वाले रोगों में इस्तेमाल कर सकते हैं। और दादा जैसे समस्याएं इस्तेमाल कर सकते हैं। क्योंकि लहसुन का इस्तेमाल करने से आपको कई तरह के त्वचा के लाभ हो सकते हैं।

लहसुन का इस्तेमाल करने के लिए आपको लहसुन का तेल का इस्तेमाल करना है। आपको लहसुन के तेल को जहां आपको दाद की समस्या है। वहां पर लगाना है ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपको दर्द जैसी त्वचा के फंगल इन्फेक्शन आसानी से लाभ मिल सकता है।
 

मुलेठी 

3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें?

 
दोस्तों मुलेठी दाद और खुजली जैसे समस्या से निपटने के लिए बेहतर इलाज है। इसके लिए आपको मुलेठी के पाउडर को जहां पर आपको दाद की समस्या है, वहां पर आपको मुलेठी का पाउडर का इस्तेमाल करना है। इस्तेमाल करने के लिए आपको जहां पर आपको दादा है। वहां स्वास्थ पानी से साफ करना है, उसके बाद मुलेठी के पाउडर को आपको दाद पर लगाना है। ऐसा रोजाना करने से आपको उदास जैसी त्वचा रोग से कुछ ही दिनों में आराम होने लगेगा।

अंतिम शब्द 

उम्मीद करते हे आपको हमारी पोस्ट  3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें? में समज में आया होगा। आपको हमें इस पोस्ट में दाद क्यों होती हे। दाद के लक्षण क्या होते हे। और उसके साथ साथदाद से कैसे छुटकारा पा सकते हे।उसके बारे में आपको विस्तृत में बतया हे। अगर आपको इस पोस्ट का कुछ सुझाव या कुछ टिप्णिया हे तो हमें जरूर से बातये। जिसे Health Improvement आपकी समस्या को सुलझा सके।
नोट: हमारी इस 3 दिनों में दाद का इलाज कैसे करें? पोस्ट में आपको माहिती  मेडिकल रिपोर्ट और स्वास्थ्य विशेषज्ञ के आधारित दी गई हे। आपको कोई स्वास्थ्य सबंधीद समस्या हे तो अपने चिकित्स की सलाह जरूर से ले। (alert-warning)
 
और भी पढ़े 

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)

#buttons=(Ok, Go it!) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Ok, Go it!